नई पोस्ट करें

Gujarat News: मोदी 2001 के भूकंप में मारे गए स्कूली बच्चों और शिक्षकों के स्मारक का उद्घाटन करेंगे

2022-10-04 23:54:32 863

मोदी2001केभूकंपमेंमारेगएस्कूलीबच्चोंऔरशिक्षकोंकेस्मारककाउद्घाटनकरेंगेमांगलिक दोष से राहत दिलाता है मंगल का रत्न मूंगा, इस तरह पहनेंगे तो बनेगी बात******हमारे देश में शादी विवाह के मामलों में मांगलिक दोष की अक्सर बात की जाती है। यूं तो मंगल देवताओं के सेनापति यानि देवसेनापति हैं लेकिन यही मंगल कई बार विवाह संबंधी परेशानियां पैदा करते हैं जिसके चलते जातक को मांगलिक दोष लगता है। वो जातक जिनका मंगल कमजोर होने के कारण उनके विवाह में दिक्कत आती हैं, उन्हें अक्सर मांगलिक दोष दूर करने के लिए मंगल का रत्न मूंगा धारण करने की सलाह दी जाती है।ज्योतिषचार्यों के अनुसार मूंगा धारण करने से मंगल ग्रह मजबूत होता है। ज्योतिष शास्त्र में सलाह दी गई है कि अगर मांगलिक दोष से पीड़ित हैं तो संबंधित जातक को ज्योतिषी की सलाह पर मूंगा पहनना चाहिए। इसे ज्योतिषी की सलाह पर सही रत्ती पहनने पर मंगल दोष शांत होता है और मांगलिक व्यक्ति के लग्न की संभावनाएं बनने लगती हैं।इतना ही नहीं अगर व्यक्ति मूंगा को विधि-विधान के साथ धारण करें तो तमाम तरह के अपयश, विपदाओं और दुर्घटनाओं आदि से मुक्ति हो सकता हैं। जानिए किन लोगों को मूंगा धारण करना चाहिए।ज्योतिषाचार्य भी कहते हैं कि मांगलिक दोष विवाह और दांपत्य जीवन को प्रभावित करता है। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार यदि किसी जातक की कुंडली में मंगल पहले, चौथे, सांतवें, आठवें और बारहवें भाव में बैठा हो तो यह स्थिति कुंडली में मांगलिक दोष का निर्माण करती है। इसके प्रभावों को कम करने के लिए जातक को मूंगा पहनने की सलाह दी जाती है।मांगलिक दोष से राहत पानी है तो मूंगे को तांबे या फिर सोने की अंगूठी में पहनना शुभ माना जाता है। मूंगा को लाकर सोमवार की रात को दूध और गंगाजल मिले मिश्रण में मूंगा डाल दें। फिर मंगलावर के दिन इसे साफ करके तर्जनी या फिर अनामिका अंगूली में पहन लें।

मोदी2001केभूकंपमेंमारेगएस्कूलीबच्चोंऔरशिक्षकोंकेस्मारककाउद्घाटनकरेंगेNSA Ajit Doval: "देश की यूनिटी से नो कॉम्प्रोमाइज," धार्मिक वैमनस्यता को लेकर क्या बोले अजित डोभाल******Highlights राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (NSA) अजित डोभाल ने शनिवार को कहा कि कुछ लोग धर्म और विचारधारा के नाम पर वैमनस्यता पैदा करते हैं जो पूरे देश को प्रभावित करता है। NSA ने कहा कि इसका मुकाबला करने के लिए धर्मगुरुओं को मिलकर काम करना होगा। उन्होंने कहा कि गलतफहमियों को दूर करने और हर धार्मिक संस्था को भारत का हिस्सा बनाने के लिए प्रयास करने की जरूरत है।राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल ने ‘कॉन्स्टिट्यूशन क्लब’ में ऑल इंडिया सूफी सज्जादानशीन काउंसिल (AISSC) द्वारा आयोजित एक अंतरधार्मिक सम्मेलन में विभिन्न धर्मों के धार्मिक नेताओं की मौजूदगी में यह बात कही। डोभाल ने सम्मेलन में कहा, ‘‘कुछ लोग धर्म के नाम पर वैमनस्यता पैदा करते हैं जो पूरे देश पर प्रतिकूल प्रभाव डालता है। हम इसके मूकदर्शक नहीं हो सकते। धार्मिक रंजिश का मुकाबला करने के लिए हमें एक साथ काम करना होगा और हर धार्मिक संस्था को भारत का हिस्सा बनाना होगा। इसमें हम सफल होंगे या नाकाम होंगे।’’अजित डोभाल ने आगे कहा कि यहां अलग-अलग जगह से धर्मगुरु आये हैं। दुनिया के अंदर एक अजीब सा माहौल है, कंफ्लिक्ट का माहौल है। अगर इस से निपटना है तो हमें एक रहना है। रेडिकल फोर्सेस नेगेटिविटी का माहौल बनाने की कोशिश करते हैं। चंद लोग धर्म के नाम पर, विचारधारा के नाम पर वैमनस्य पैदा करते हैं जिसका असर होता है। अगर हम इसका मुकाबला करना है तो इसके लिए जमीन पर काम करना पड़ेगा। कोई गलतफहमी है तो उसे दूर करना पड़ेगा। डोभाल ने कहा कि 1915 में अफगानिस्तान में कुछ उलेमाओं ने जाकर एक सरकार बनाई और उसका प्रेसिडेंट राजा महिंदर पाल सिंह को बनाया। मतलब जिहाद तो था लेकिन विकास के लिए, एक धर्म के लिए नहीं।NSA ने अपने संबोधन में कहा कि अब इस माहौल को सही करने की जरूरत है। इसके लिए नियत और काबिलियत की ज़रूरत है। आप सबको मिलकर काम करने की ज़रूरत है। सभी धर्मों से मिलकर काम करना है। ये तय करना है कि हम अपने देश की अखंडता यूनिटी को कॉम्प्रोमाइज नहीं होने देना है। आखिरी हिंदुस्तानी के जानमाल पर आंच आएगी तो सबको बोलना है। वहीं, AISSC के तत्वावधान में आयोजित सम्मेलन में धार्मिक नेताओं ने ‘‘पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (PFI) जैसे संगठनों और ऐसे अन्य मोर्चों पर प्रतिबंध लगाने’’ का एक प्रस्ताव पारित किया जो ‘‘राष्ट्र विरोधी गतिविधियों में लिप्त’’ रहे हैं।मोदी2001केभूकंपमेंमारेगएस्कूलीबच्चोंऔरशिक्षकोंकेस्मारककाउद्घाटनकरेंगेGandhi Jayanti 2020: बॉलीवुड सेलेब्स ने महात्मा गांधी के आदर्शों को किया याद******की 151वीं जयंती बॉलीवुड हस्तियों ने उनके आदर्शों को याद दिया है। महात्मा गांधी का गुजरात के पोरबंदर में 1869 में आज ही के दिन जन्म हुआ था। शबाना आजमी, रितेश देशमुख, दिशा पाटनी और सिद्धार्थ मल्होत्रा सहित कई सेलेब्स ने पोस्ट शेयर किया है।बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत ने वीडियो शेयर किया।शबाना आजमी ने ट्वीट किया, "महात्मा गांधी की बर्थ एनिवर्सिरी पर उन्हें याद कर रही हूं। उनके आदर्शों के जरिए इस अंधेरे से रोशनी में जाने का रास्ता मिलने की आशा है।"कमल हासन ने गांधी जयंती पर पोस्ट शेयर किया है।रितेश देशमुख ने लिखा, "आज हमें महात्मा गांधी जी के विचारों की ज़रूरतसबसे ज़्यादा है। जो बदलाव हम अपने देश में चाहते हैं, वो ही बदलाव हमें सबसे पहले अपने अंदर लाना होगा। #GandhiJayanti #JaiHind"उर्मिला ने ट्वीट किया, “वैष्णव जन तो तेने कहिये जे पीर परायी जाणे रे”इमरान हाशमी ने महात्मा गांधी का कोट शेयर किया है।रणदीप हुड्डा ने गांधी जयंती और लाल बहादुर शास्त्री की जयंती पर पोस्ट शेयर किया है।

Gujarat News: मोदी 2001 के भूकंप में मारे गए स्कूली बच्चों और शिक्षकों के स्मारक का उद्घाटन करेंगे

मोदी2001केभूकंपमेंमारेगएस्कूलीबच्चोंऔरशिक्षकोंकेस्मारककाउद्घाटनकरेंगेइन 3 कारणों की वजह से भारत को हराकर अफगानिस्तान कर सकता है बड़ा उलटफेर****** और के बीच 14 जून से में ऐतिहासिक टेस्ट मैच खेला जाना है। दोनों देशों के लिए ये मैच बेहद अहम है। अफगानिस्तान इस मैच के जरिए टेस्ट क्रिकेट में आगाज करेगा। तो वहीं, भारत का इरादा इस मुकाबले को जीतकर दौरे से पहले अपनी ताकत परखने का होगा। लेकिन इस मैच में अफगानिस्तान भारत के लिए मुसीबतें खड़ी कर सकता है। अफगानिस्तान के पक्ष में 3 कारण नजर आ रहे हैं जिनकी वजह से वो उलटफेर करने का दम रखता है। आइए आपको बताते हैं वो तीन कारण जिनकी वजह से अफगानिस्तान दे सकता है भारत को मात। अफगानिस्तान की टीम लंबे समय से भारत में खेल रही है। यहां तक की भारत को उन्होंने अपना घरेलू मैदान भी बना रखा है। टीम पहले अपने मैच ग्रेटर नोएडा में खेलती थी और अब उसका नया घरेलू मैदान देहरादून है। साफ है कि अफगानिस्तान की टीम भारत में काफी रहती है और यहीं वो अपने मैच खेलती है। ऐसे में भारत के हालातों से वो अच्छे से वाकिफ है।भारतीय पिचें स्पिन गेंदबाजों को मदद देती हैं और टीम इंडिया अक्सर स्पिन गेंदबाजों के अनुकूल पिच बनाने में जोर देती है। लेकिन अगर ऐसा होता है तो भारत के लिए ये दांव उल्टा भी पड़ सकता है। क्योंकि अफगानिस्तान ने अपनी स्क्वॉड में 5 स्पिन गेंदबाजों को जगह दी है। जिसमें 3 बेहद खतरनाक हैं। टीम में राशिद खान, मोहम्मद नबी, मुजीब उर रहमान, जहीर खान जैसे स्पिन गेंदबाज हैं। राशिद, नबी और रहमान की तिकड़ी भारतीय बल्लेबाजों को नाकों चने चबवा सकती है। तीसरा कारण ये है कि भारत ने इस मैच के लिए स्टार खिलाड़ियों को आराम दिया है और ऐसे में अफगानिस्तान इसका भरपूर फायदा उठा सकता है। इस मैच में विराट कोहली, रोहित शर्मा, भुवनेश्वर कुमार, जसप्रीत बुमराह जैसे सितारे नहीं होंगे और ऐसे में अफगानिस्तान की टीम इसका फायदा उठाने में कोई कोर-कसर नहीं छोड़ेगी।मोदी2001केभूकंपमेंमारेगएस्कूलीबच्चोंऔरशिक्षकोंकेस्मारककाउद्घाटनकरेंगेBudget 2020:जिला अस्पतालों में खुलेंगे नए मेडिकल कॉलेज, 150 यूनिवर्सिटी में शुरू होंगे नए कोर्सेज़ : निर्मला सीतारमण******Union Budget 2020-2021 वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कई क्षेत्रों के लिए खास घोषणाएं की हैं। यहां वित्तमंत्री का मुख्य जोर युवाओं के रोजगार और शिक्षा को लेकर रहा। जहां बीते साल सरकार ने बजट के लिए 93,847.64 करोड़ रुपये का प्रस्ताव रखा था। वहीं इस साल शिक्षा क्षेत्र में 99300 करोड़ रुपये खर्च किए जाएंगे। निर्मला सीतारमण ने बजट पेश करने के दौरान शिक्षा से जुड़ी कई अहम प्रस्ताव रखे। वित्त मंत्री ने बजट भाषण में कहा कि जिला अस्पतालों में अब मेडिकल कॉलेज बनाने की योजना भी बनाई जाएगी। लोकल बॉडी में काम करने के लिए युवा इंजीनियर्स को इंटर्नशिप की सुविधा दी जाएगी।उच्च शिक्षा को बेहतर बनाने के लिए सरकार काम कर रही है। दुनिया के छात्रों को भारत में पढ़ने के लिए सुविधाएं दी जाएंगी। भारत के छात्रों को भी एशिया, अफ्रीका के देशों में भेजा जाएगा। वित्त मंत्री ने कहा कि डॉक्टरों के लिए एक ब्रिज प्रोग्राम शुरू किया जाएगा, ताकि प्रैक्टिस करने वाले डॉक्टरों को प्रोफेशनल बातों के बारे में सिखाया जा सके। छात्रों के लिए 150विश्वविद्यालयों में नए कोर्सेज 2026 तक शुरू किए जाएंगे।मोदी2001केभूकंपमेंमारेगएस्कूलीबच्चोंऔरशिक्षकोंकेस्मारककाउद्घाटनकरेंगे2 महीने पहले सूअर का दिल लगवाने वाले शख्स की मौत, डॉक्टरों ने कही ये बात******Highlights करीब 2 महीने पहले एक अभूतपूर्व प्रयोग के तहत अमेरिका में जिस व्यक्ति को सूअर का हृदय लगाया गया था, उसकी मौत हो गयी है। सर्जरी करने वाले मैरीलैंड अस्पताल ने बुधवार को यह घोषणा की। डेविड बेनेट (57) की मंगलवार को यूनिवर्सिटी ऑफ मैरीलैंड मेडिकल सेंटर में मृत्यु हो गयी। डॉक्टरों ने उसकी मौत की वजह तो नहीं बताई है, लेकिन कहा कि कई दिन पहले उसकी हालत बिगड़नी शुरू हो गयी थी। बेनेट के बेटे ने इस नयी तरह के प्रयोग के लिए अस्पताल की तारीफ की थी और कहा था कि परिवार को उम्मीद है कि इससे अंगों की कमी को दूर करने के प्रयासों में मदद मिलेगी।बेनेट की सर्जरी लगभग 2 महीने पहले 7 जनवरी को हुई थी जिसके बाद उसके बेटे ने कहा था कि उसके पिता जानते हैं कि इस प्रयोग के सफल रहने की कोई गारंटी नहीं है। शुरू में बेनेट के शरीर में सूअर का हृदय काम कर रहा था और मैरीलैंड अस्पताल ने समय-समय पर ताजा जानकारी दी कि बेनेट धीरे-धीरे स्वस्थ हो रहे हैं। पिछले महीने अस्पताल ने उनका एक वीडियो जारी किया था जिसमें वह अपने फिजिकल थेरेपिस्ट के साथ काम करते हुए अस्पताल के बिस्तर से फुटबॉल का मैच देख रहे हैं।‘यूनिवर्सिटी ऑफ मैरीलैंड मेडिकल सेंटर’ के डॉक्टरों ने प्रत्यर्पण के बाद कहा था कि यह दिखाता है कि जेनेटिक बदलाव के साथ जानवर का हृदय तत्काल अस्वीकृति के लक्षण दिखाए बिना मानव शरीर में कार्य कर सकता है। मरीज डेविड बेनेट (57) के बेटे ने बताया कि डेविड को पता था कि इस प्रयोग के सफल होने की कोई गारंटी नहीं थी, लेकिन वह मरणासन्न अवस्था में थे, वह मनुष्य के हृदय के प्रतिरोपण के योग्य नहीं थे और उनके पास कोई और विकल्प नहीं था।

Gujarat News: मोदी 2001 के भूकंप में मारे गए स्कूली बच्चों और शिक्षकों के स्मारक का उद्घाटन करेंगे

मोदी2001केभूकंपमेंमारेगएस्कूलीबच्चोंऔरशिक्षकोंकेस्मारककाउद्घाटनकरेंगेIND vs PAK: महामुकाबले में टीम इंडिया के लिए आई खुशखबरी, मैदान पर हेड कोच राहुल द्रविड़ को देख खुश हुए फैंस******Highlightsभारत और पाकिस्तान के बीच एशिया कप 2022 का हाईवोल्टेज मुकाबला शुरू हो चुका है। भारतीय कप्तान रोहित शर्मा ने टॉस भी जीत लिया है। इसी के साथ भारतीय फैंस के लिए दोहरी खुशखबरी तब आई जब मैदान पर टीम के हेड कोच राहुल द्रविड़ कप्तान रोहित शर्मा के साथ नजर आए। गौरतलब है कि हाल ही में द्रविड़ कोरोना संक्रमित हो गए थे। लेकिन इस हाईवोल्टेज मैच के दिन वह दुबई में टीम के साथ जुड़े और भारतीय फैंस यह जानकर खासा गदगद भी हुए।आपको बता दें कि भारतीय टीम हेड कोच राहुल द्रविड़ के नेतृत्व में यह पहला मल्टी नेशन टूर्नामेंट खेल रही है। टूर्नामेंट के शुरू होने से पहले ही द्रविड़ को महामारी के संक्रमित पाया गया था। इसके तुरंत बाद वह आइसोलेट किए गए थे और एनसीए चीफ वीवीएस लक्ष्मण को टीम का अंतरिम कोच नियुक्त किया गया था। लेकिन पाकिस्तान के खिलाफ बड़े मैच से पहले राहुल द्रविड़ फिट हुए और टीम के साथ जुड़ गए।हेड कोच राहुल द्रविड़ ने पिछले साल टी20 वर्ल्ड कप 2021 में भारत की हार के बाद टीम का नेतृत्व संभाला था। उनकी कोचिंग में टीम इंडिया साउथ अफ्रीका दौरे पर टेस्ट व वनडे सीरीज हारी थी। इसके अलाव भारत को एक भी सीरीज में हार नहीं मिली। न्यूजीलैंड, वेस्टइंडीज, श्रीलंका, साउथ अफ्रीका के खिलाफ टी20 सीरीज, फिर इंग्लैंड में जाकर इंग्लैंड के खिलाफ सीरीज भी भारत ने अपने नाम की थी। उनके नेतृत्व की शुरुआत नवंबर में न्यूजीलैंड के खिलाफ होम सीरीज से हुई थी। जिसमें भारत ने क्लीन स्वीप किया था।भारतीय टीम एशिया कप 2022 में पाकिस्तान के खिलाफ महामुकाबले से अपने अभियान की शुरुआत कर रही है। भारतीय टीम पाकिस्तान और हॉन्ग कॉन्ग के साथ ग्रुप ए में मौजूद है। भारत ने इससे पहले 14 में से 7 बार एशिया कप का खिताब जीता है। मौजूदा समय में भी भारतीय टीम डिफेंडिंग चैंपियन है। एशिया कप का यह 15वां संस्करण खेला जा रहा है। टीम इंडिया की निगाहें निश्चित ही इस बार 8वें खिताब पर होंगी।मोदी2001केभूकंपमेंमारेगएस्कूलीबच्चोंऔरशिक्षकोंकेस्मारककाउद्घाटनकरेंगेSanjay Raut ने अदालत में कहा, ED ने हिरासत के दौरान मुझे बंद कमरे में रखा******HighlightsED द्वारा कथित मनी लॉन्ड्रिंग के एक केस में गिरफ्तार किए गए शिवसेना सांसद संजय राउत ने गुरुवार को केंद्रीय एजेंसी पर कई आरोप लगाए हैं। राउत ने एक स्पेशल कोर्ट के समक्ष कहा कि हिरासत के दौरान एजेंसी ने उन्हें एक ऐसे कमरे में रखा जिसमें न तो खिड़की थी और न ही वेंटिलेशन के लिए कोई रास्ता था। शिवसेना नेता ने गुरुवार को PMLA से संबंधित मामलों की सुनवाई के दौरान स्पेशल कोर्ट के जज एम. जी. देशपांडे के समक्ष यह बात कही।कोर्ट ने हालांकि राउत को कोई राहत नहीं दी और उनकी ED हिरासत की अवधि 8 अगस्त तक के लिए बढ़ा दी। बता दें कि ED ने गोरेगांव में पात्रा ‘चॉल’ के रीडिवेलपमेंट में पैसे की गड़बड़ियों और उनकी पत्नी तथा कथित सहयोगियों के संपत्ति से जुड़े वित्तीय लेनदेन के संबंध में राउत को रविवार की आधी रात गिरफ्तार कर लिया था। अदालत ने राउत को सोमवार को 4 अगस्त तक ED की हिरासत में भेज दिया था। हिरासत की अवधि खत्म होने पर एजेंसी ने गुरुवार को उन्हें स्पेशल कोर्ट में पेश किया जहां से उनकी हिरासत की अवधि बढ़ा दी गयी।सुनवाई के दौरान जब अदालत ने शिवसेना नेता से पूछा कि क्या उन्हें ED के खिलाफ कोई शिकायत है तो जवाब में कहा कि ऐसा कुछ खास नहीं है। हालांकि, उन्होंने इतना जरूर कहा कि उन्हें जिस कमरे में रखा गया, उसमें कोई खिड़की नहीं थी और हवा के अंदर और बाहर जाने का कोई रास्ता नहीं था। कोर्ट ने ED से इस बात के लिए स्पष्टीकरण मांगा है। केंद्रीय एजेंसी की ओर से पेश हुए विशेष लोक अभियोजक हितेन वेनेगावकर ने कहा कि राउत को एक AC कमरे में रखा गया था और इसलिए वहां कोई खिड़की नहीं थी। ने बाद में अदालत से कहा कि हालांकि वहां ‘AC’ की व्यवस्था है, लेकिन वह अपनी स्वास्थ्य स्थिति के चलते इसका इस्तेमाल नहीं कर सकते। ED ने तब अदालत को आश्वासन दिया कि उन्हें उचित तरीके से हवा की आवाजाही वाले कमरे में रखा जाएगा। ED ने सोमवार को अदालत को बताया था कि शिवसेना सांसद और उनके परिवार को मुंबई में एक ‘चॉल’ के रीडिवेलपमेंट प्रोजेक्ट में कथित अनियमितताओं के चलते एक करोड़ रुपये से ज्यादा की रकम मिली थी।

Gujarat News: मोदी 2001 के भूकंप में मारे गए स्कूली बच्चों और शिक्षकों के स्मारक का उद्घाटन करेंगे

मोदी2001केभूकंपमेंमारेगएस्कूलीबच्चोंऔरशिक्षकोंकेस्मारककाउद्घाटनकरेंगेQ3 Results: स्पाइसजेट का मुनाफा 32 प्रतिशत बढ़ा, रिलायंस होम को हुआ 46 करोड़ रुपए का लाभ******किफायती विमानन सेवाएं देने वाली कंपनी को चालू वित्त वर्ष की दिसंबर में समाप्त तीसरी तिमाही में 240 करोड़ रुपए का शुद्ध मुनाफा हुआ है। यह पिछले वित्त वर्ष की समान तिमाही के 181.44 करोड़ रुपए की तुलना में 32 प्रतिशत अधिक है। कंपनी ने जारी बयान में कहा कि यात्रियों से प्राप्त राजस्व के कारण उसे लगातार 12वीं तिमाही में मुनाफा हुआ है। यह कंपनी का अब तक किसी भी तिमाही का सर्वाधिक मुनाफा है।कंपनी ने कहा कि आलोच्य तिमाही के दौरान उसकी कुल आय पिछले वित्त वर्ष के 1,642.41 करोड़ रुपए की तुलना में 27 प्रतिशत बढ़कर 2,081.95 करोड़ रुपए पर पहुंच गई है।कंपनी के चेयरमैन एवं प्रबंध निदेशक अजय सिंह ने कहा कि लगातार 12वीं सफल तिमाही, विमानों का रिकॉर्ड ऑर्डर, यात्रियों से प्राप्त बेहतर राजस्व, समय पर सेवा तथा वृद्धि के नए तरीकों की खोज के कारण स्पाइसजेट दीर्घकालीन वृद्धि की रणनीति पर मजबूती से बढ़ रहा है। रिलायंस होम फाइनेंस को 46 करोड़ रुपए का शुद्ध लाभरिलायंस होम फाइनेंस का शुद्ध लाभ दिसंबर 2017 को समाप्त तिमाही में 100 प्रतिशत बढ़कर 46 कराड़ रुपए रहा। परिचालन आय बढ़ने से कंपनी का लाभ बढ़ा।कंपनी के चालू वित्त वर्ष में सूचीबद्ध होने के बाद यह उसका पहला तिमाही परिणाम है।रिलायंस होम फाइनेंस लि. (आरएचएफएल) का शुद्ध लाभ 2016-17 की अक्‍टूबर-दिसंबर तिमाही में 23 करोड़ रुपए था।कंपनी ने शेयर बाजारों को दी सूचना में कहा कि आलोच्य तिमाही में उसकी आय 56 प्रतिशत बढ़कर 421 करोड़ रुपए रही, जो इससे पूर्व वित्त वर्ष 2016-17 की इसी तिमाही में 270 करोड़ रुपए थी।वोल्टास का तीसरी तिमाही का मुनाफा 23 प्रतिशत बढ़ा टाटा समूह की कंपनी वोल्टास का एकीकृत शुद्ध लाभ दिसंबर में समाप्त चालू वित्त वर्ष की तीसरी तिमाही में 23.14 प्रतिशत बढ़कर 100.44 करोड़ रुपए पर पहुंच गया।इससे पिछले वित्त वर्ष की समान तिमाही में कंपनी ने 81.56 करोड़ रुपए का शुद्ध लाभ कमाया था।कंपनी ने कहा कि तिमाही के दौरान उसकी परिचालन आय बढ़कर 1,374.67 करोड़ रुपए रही, जो एक साल पहले समान तिमाही में 1,200.12 करोड़ रुपए थी।

मोदी2001केभूकंपमेंमारेगएस्कूलीबच्चोंऔरशिक्षकोंकेस्मारककाउद्घाटनकरेंगेNIOS Results 2021: 10वीं और 12वीं का ऑन डिमांड एग्जाम रिजल्ट जारी, ऐसे करें चेक****** नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ ओपन स्कूलिंग (NIOS) ने अप्रैल 2021 में करवाए NIOS ऑन डिमांड एग्जाम के रिजल्ट जारी कर दिए हैं। NIOS द्वारा 28 मई तक 10वीं और 12वीं क्लास के ऑन डिमांड एग्जाम के रिजल्ट जारी किए गए। जो छात्र 10वीं और 12वीं की ऑन-डिमांड परीक्षा में शामिल हुए थे, वे अपना परिणाम National Institute of Open Schooling की आधिकारिक वेबसाइट पर देख सकते हैं। आपको बता दें कि NIOS ने 10वीं और 12वीं कक्षा के ऑन डिमांड एग्जाम 1 अप्रैल से 15 अप्रैल के बीच आयोजित करवाए थे। इससे पहले, एनआईओएस अपने आशा प्रमाणपत्र कार्यक्रम के लिए voc.nios.ac.in पर परिणाम जारी किया था। इसके अलावा, देश में कोविड की दूसरी लहर को देखते हुए, नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ ओपन स्कूलिंग ने अपने माध्यमिक पाठ्यक्रम की परीक्षाओं को अगली सूचना तक स्थगित कर दिया, जो जून 2021 में निर्धारित की गई थी।मोदी2001केभूकंपमेंमारेगएस्कूलीबच्चोंऔरशिक्षकोंकेस्मारककाउद्घाटनकरेंगेSUP vs VEL, Women's T20 Challenge 2022 Dream11 prediction : ये रही आज की टीम******म​हिला टी20 चैलेंज में आज भी एक मुकाबला खेला जाना है। मंगलवार को सुपरनोवा और वेलोसिटी की टीम के बीच मुकाबला होना है। ये टी20 चैलेंज का दूसरा मैच है। सुपरनोवा ने इससे पहले सोमवार को ही खेल गए मैच में ट्रेलब्लेजर्स को 49 रनों से मात दी थी। सुपरनोवा की टीम लगातार दूसरे दिन मैदान में उतरने जा रही है। आज का मैच भी पुणे में खेला जाएगा, जहां पहला मैच हुआ था। उधर वेलोसिटी की टीम आज अपना पहला मुकाबला खेलने के लिए मैदान में उतर रही है। वेलोसिटी की टीम की कप्तानी दीप्ति शर्मा के हाथ में होगी, वहीं सुपरनोवा की टीम की कमान पहले की ही तहर हरमनप्रीत कौर संभाल रही हैं। खास बात ये है कि सोमवार क मैच शाम साढ़े सात बजे शुरू हुआ था, लेकिन आज का मैच दोपहर साढ़े तीन बजे से शुरू होगा, इससे आधे घंटे पहले तीन बजे टॉस होगा। डिएंड्रा डॉटिन, प्रिया पुनिया, सुने लुस, हरमनप्रीत कौर (कप्तान), हरलीन देओल, तानिया भाटिया (विकेटकीपर), सोफी एक्लेस्टोन, अलाना किंग, वी चंदू, पूजा वस्त्रकर, मेघना सिंहयास्तिका भाटिया (विकेटकीपर), लौरा वोल्वार्ड्ट, केपी नवगिरे, सुषमा वर्मा, नट्टकन चंतम, दीप्ति शर्मा (कप्तान), स्नेह राणा, केट क्रॉस, अयाबोंगा खाका, राधा यादव, माया सोनवणेविकेट कीपर : तानिया भाटिया, यास्तिका भाटियाबल्लेबाज : डिएंड्रा डॉटिन, प्रिया पुनिया, सुषमा वर्मा, लौरा वोल्वार्ड्टआलराउंडर : सुने लुस, दीप्ति शर्मा,गेंदबाज : सोफी एक्लेस्टोन, अयाबोंगा खाका, अलाना किंग।हरमनप्रीत कौर (कप्तान), तानिया भाटिया, अलाना किंग, आयुषी सोनी, चंदू वी, डिएंड्रा डॉटिन, हरलीन देओल, मेघना सिंह, मोनिका पटेल, मुस्कान मलिक, पूजा वस्त्राकर, प्रिया पुनिया, राशि कनौजिया, सोफी एक्लेस्टोन, सुने लुस, मानसी जोशी. दीप्ति शर्मा (कप्तान), स्नेह राणा, शैफाली वर्मा, अयाबोंगा खाका, केपी नवगिरे, कैथरीन क्रॉस, कीर्ति जेम्स, लौरा वोल्वार्ड्ट, माया सोनवणे, नत्थकन चंतम, राधा यादव, आरती केदार, शिवली शिंदे, सिमरन बहादुर, यास्तिका भाटिया, प्रणवी चंद्रा.

मोदी2001केभूकंपमेंमारेगएस्कूलीबच्चोंऔरशिक्षकोंकेस्मारककाउद्घाटनकरेंगे15,000 रुपए से कम में खरीद सकते हैं सेल्फी फोन ओप्पो ए57, जानिए फीचर और स्पेसिफिकेशन******oppo a57 smartphone चीनी स्मार्टफोन निर्माता कंपनी ओप्पोका ओप्पो ए57 आपके लिए बेहद खास बजटस्मार्टफोन हो सकता है।सेल्फी के दीवानों के लिए ओप्पो ए57 बेहद खास है। ओप्पो ए57 में 16 मेगापिक्सल का फ्रंट कैमरा दिया जाएगा।ओप्पो ए57 भारतीय मार्केट में 14,990 रुपए की कीमत में मिलता है। ओप्पो ए57 का डिसप्ले 5.2 इंच का है। इस फोन में 1.4 गीगाहर्ट्ज ऑक्टा-कोर क्वालकॉम 435 प्रोसेसर, 3 जीबी रैम और ग्राफिक्स के लिए एड्रेनो 505 जीपीयू दिया गया है। एंड्रॉयड 6.0 मार्शमैलो से लैस यह फोन कलरओएस 3.0 स्किन पर चलता है।ओप्पो ए57 के स्पेसिफिकेशन की बात करें तो इसमें डुअल सिम ओप्पो ए57 एंड्रॉयड 6.0 मार्शमैलो पर चलता है जिसके ऊपर ओप्पो की कलरओएस 3.0 स्किन दी गई है। इस फोन में 1.4 गीगाहर्ट्ज़ ऑक्टा-कोर क्वालकॉम 435 प्रोसेसर है। रैम 3 जीबी और ग्राफिक्स के लिए एड्रेनो 505 जीपीयू दिया गया है। स्मार्टफोन में 5.2 इंच एचडी (720x1280 पिक्सल) एलसीडी डिस्प्ले है जो 2.5डी कर्व्ड ग्लास के साथ आता है।बात करें कैमरे की तो ओप्पो ए57 में अपर्चर एफ/2.0 के साथ 16 मेगापिक्सल का फ्रंट कैमरा है। रियर कैमरा 13 मेगापिक्सल का है जो अपर्चर एफ/2.2, पीडीएएफ और एक एलईडी फ्लैश मॉड्यूल के साथ आता है। इस फोन में एक फिंगरप्रिंट सेंसर भी है जिसे होम बटन में ही इंटीग्रेट किया गया है। ओप्पो ए57 में 32 जीबी स्टोरेज है जिसे माइक्रोएसडी कार्ड के जरिए 128 जीबी तक बढ़ा सकते हैं।कनेक्टिविटी के लिए फोन में 4जी एलटीई, जीपीआरएस/एज, ब्लूटूथ वी4.1, जीपीएस, यूएसबी और 3.5 एमएम ऑडियो जैक है। इस स्मार्टफोन में 2900 एमएएच की बैटरी है। ओप्पो ए57 का डाइमेंशन 149.1x72.9x7.65 मिलीमीटर और वजन 147 ग्राम है।मोदी2001केभूकंपमेंमारेगएस्कूलीबच्चोंऔरशिक्षकोंकेस्मारककाउद्घाटनकरेंगेपीलिया खत्म करना है तो आजमाइए ये देसी नुस्खा, ना खर्चा ना झंझट, खत्म हो जाएगा जॉन्डिस******Highlightsजब-जब मौसम बदलता है, तब ये अपने साथ कई बीमारियां लेकर आता है। खासकर, कमजोर इम्‍यून‍िटी वालों को बदलते मौसम की वजह से बीमार‍ियां और इंफेक्‍शन होनेका खतरा अधिक बना रहता है। इसके चलते हर साल करीब लाखों लोग जॉन्डिस यानी पीलिया की चपेट में आ जाते हैं। इसलिए समय रहते इस बीमारी से बचाव करना बेहद जरूरी है वरना आगे चलकर ये घातक रूप ले सकता है। वहीं, कई बार खराब लाइफस्टाइल और गलत खानपान की वजह से ये भयानक रूप ले लेता है जिसे ठीक होने में महीने लग जाते हैं। ऐसे में आज हम आपको कुछ देसी नुस्खे बताएंगे जिनकी मदद से आप जॉन्डिस जैसी बीमारी से जल्द से जल्द छुटकारा पा सकते हैं। आइए जानते हैं।सेहत के लिए मुलेठी काफी फायदेमंद माना जाता है। इसमें कैल्शियम, ग्लिसराइजिक एसिड, प्रोटीन जैसे कई पोषक तत्व पाए जाते हैं जोकि पीलिया जैसे बीमारी से लड़ने में कारगर होते हैं। इसके लिए पहले मुलेठी को पीसकर पाउडर बना लें। उसके बाद इस पाउडर में थोड़े से शहद में मिलाकर इसका सेवन करेंनीम की पत्तियां पीलिया के मरीजों के बेहद असरदार है। इसके लिए नीम के पत्तों को पीसकर रस निकाल लें। उसके नियमित रूप से इसका सेवन करें। ऐसा करने से आपको फर्क नजर आ सकता है।पीलिया को खत्म करने में मूली आपकी मदद कर सकती है। इसके लिए पहले आप मूली के साथ मूली के पत्तों का भी रस निकाल लें। उसके बाद इस रस में काला नमक मिलाकर इसका सेवन करें। इससे पीलिया जल्द खत्म होने में मदद मिलेगी साथ ही आपका पाचन तंत्र सही रहेगा।साबुत धनिया खाने का स्वाद बढ़ाने के साथ ही ये पीलिया में भी आपकी मदद कर सकता है। इसके लिए थोड़े से साबुत धनिए को रातभर पानी में भिगोकर रख दें। फिर सुबह इसे पी जाएं। इससे पीलिया जल्द खत्म होने में मदद मिलती है।

मोदी2001केभूकंपमेंमारेगएस्कूलीबच्चोंऔरशिक्षकोंकेस्मारककाउद्घाटनकरेंगेविश्व योग दिवस 2020: डायबिटीज को कंट्रोल करने में कारगर ये योगासन, आसानी से घर बैंठे कम होगा ब्लड शुगर******एक रिपोर्ट के मुताबिक दुनियाभर में 8 करोड़ लोग डायबिटीज से पीड़ित हैं। जिनमें से करीब 10 लाख लोग डायबिटीज के कारण अपनी जान गवां देते हैं। यूके में हुई एक रिसर्च के अनुसार 3 में से 1 डायबिटीज का मरीज कोरोना वायरस का शिकार हो रहा हैं। खराब लाइफस्टाइल खानपान, अनियमित नींद और शारीरिक परिश्रम न कर पाने के कारण ब्लड शुगर के साथ-साथ कई समस्याओं का सामना करना पड़ता है। स्वामी रामदेव के अनुसार जब शरीर में शुगर लेवल बढ़ता है तो किडनी, हार्ट, ब्लड प्रेशर या फिर आंखों की रोशनी कम होने की शिकायत हो जाती है। इस बात को हम कह सकते हैं कि ब्लड शुगर आपके पूरे शरीर को खोखला कर देता है। अगर आप भी हमेशा डायबिटीज से निजात पाने के लिए हमेशा दवाओं के सहारा रहते हैं तो थोड़ा सा समय खुद के लिए निकालकर रोजाना करें ये योगासन।व के अनुसार डायबिटीज होने के तीन मुख्य कारण है पहला जेनेटिक, दूसरा अनहेल्दी लाइफस्टाइल और तीसरा लंबे समय तक कोई बीमारी चलने के कारण आप अनहेल्दी लाइफस्टाइल अपना लेते हैं जिसके कारण आपके पूरे रिसेप्टर्स कमजोर हो जाते हैं। जिसके कारण ब्लड शुगर होने का खतरा सबसे अधिक होता है।इस प्राणायाम को करने के लिए पहले सुखासन या पद्मासन की अवस्था में बैठ जाएं। अब अंदर गहरी सांस भरते हैं। सांस भरकर पहले अपनी अंगूलियों को ललाट में रखते हैं। जिसमें 3 अंगुलियों से आंखों को बंद करते हैं। अंगूठे से कान को बंद करते हैं। मुंह को बंदकर 'ऊं' का नाद करते हैं। इस प्राणायाम को 5 से 7 बार जरूर करना चाहिए।इस प्राणायाम को करने से पूरे शरीर में ऑक्सीजन का ठीक ढंग से प्रवाह होता है। जिससे आपको डायबिटीज के साथ-साथ कई अन्य बीमारियों से भी निजात मिल जाएगा। इसे 1 मिनट से शुरू करके करीब 3 मिनट तक करें।सबसे पहले पद्मासन की मुद्रा में बैठ जाएं। अब दाएं हाथ की अनामिका और सबसे छोटी उंगली को मिलाकर बाएं नाक पर रखें और अंगूठे को दाएं वाले नाक पर लगा लें। तर्जनी और मध्यमा को मिलाकर मोड़ लें। अब बाएं नाक की ओर से सांस भरें और उसे अनामिका और सबसे छोटी उंगली को मिलाकर बंद कर लें। इसके बाद दाएं नाक की ओर से अंगूठे को हटाकर सांस बाहर निकाल दें। इस आसन को 5 मिनट से लेकर आधा घंटा कर सकते हैं। इस प्राणायाम को करने से क्रोनिक डिजीज, तनाव, डिप्रेशन, हार्ट के लिए सबसे बेस्ट माना जाता है। इसके अलावा ये मांसपेशियों की प्रणाली को भी ठीक रखता है। इसे 10 से 15 मिनट करें।इस प्राणायाम को करने से पैंक्रियाज के बीटा सेल्स दोबारा एक्टिव हो जाते हैं। जिससे तेजी से इंसुलिन बनने लगता है। इसके अलावा इसे करने से ब्लड सर्कुलेशन ठीक रहने के साथ मेटाबॉलिज्म बढ़ता है।जिस तरह से सूर्य नमस्कार करने से आपका वजन बढ़ने के साथ शरीर हेल्दी रहता है। उसी तरह नियमित रूप से इसका अभ्यास करने से आप अपना वजन बढ़ा सकते हैं। इसके लिए रोजाना कम से कम 100 बार सूर्य नमस्कार करें। फिर इसकी संख्या धीरे-धीरे बढ़ाते जाएं। इस आसन को करने से आपका वजन कम होने के साथ-साथ डायबिटीज सहित कई बीमारियों से कोसों दूर रहेंगे।मंडूक का अर्थ है मेंढक अर्थात इस आसन को करते वक्त मेंढक के आकार जैसी स्थिति प्रतीत होती इसीलिए इसे मंडूकासन कहते हैं। इस आसन के लिए व्रजासन या पद्मासन में बैठ जाएं। इसके बाद गहरी सांस लें और अपने दोनों हाथ के उंगलियों को मोड़कर मुट्ठी बनाएं। अब दोनों हाथ की मुट्ठी को नाभि के दोनों तरफ रखें और सांस छोड़ते हुए आगे की ओर झुकेंगे। इस आसन में थोड़ी देर रहने के बाद फिर आराम से सांस छोड़ते हुए सीधे हो जाए। इस आसन को करने से पैंक्रियाज पर दवाब पड़ता है। जिससे आपका इंसुलिन कंट्रोल होगा। इस आसन को करने से डायबिटीज के साथ -साथ कोलाइटिस से निजात दिलाता है। इसके अलावा अगर कमर में दर्द हैं तो ज्यादा झुकने से बचें। इस आसन को 3 से 5 बार करें।इस आसन को करने से डायबिटीज से जड़ से निजात मिलता है। इसे 1-2 मिनट करें।इस आसन को करने से डायबिटीज के साथ-साथ पेट की चर्बी से निजात मिलेगा। मानसिक शक्ति बढ़ेंगी। इसके साथ ही शरीर मजबूत होगा। कब्ज के साथ-साथ गैस संबंधी समस्या से निजात मिल जाएगा।वक्रासन बैठ कर किए जाने वाले आसनों में एक महत्वपूर्ण आसन है। वक्रासन 'वक्र' शब्द से निकला है जिसका मतलब होता टेढ़ा। इस आसन में रीढ़ टेढ़ी या मुड़ी हुई होती है, इसीलिए इसका यह नाम वक्रासन रखा गया है। सबसे पहले आराम से बैठ जाएं। इसके बाद अपने पैरों को सामने की ओर फैला देंगे पैरों के बीच में कोई गैप नहीं रहेगा इसके बाद दाएं पैर को मोड़ते हुए बाएं पैर के घुटने के बगल ले आएंगे और दाएं हाथ को पीठ के पीछे से ले जाते हुए जमीन को स्पर्श करेंगे। इसके बाद बाएं हाथ से दाहिने पैर के बाईओर से हाथ डालते हुए दाहिने पैर के घुटने को छुएंगे। सांस की गति सामान्य रखें। इस आसन में 2-3 बार करें। इसी तरह दूसरी ओर से दोहराएं। यह डिप्रेशन के साथ-साथ डायबिटीज को कंट्रोल करता है। इस आसन को करने से फेफड़ों से जुड़ी दिक्कत से निदान मिलता है। रीढ़ की हड्डी मजबूत करें। पेट के लिए भी अच्छा है। इसके साथ ही पूरे शरीर को हेल्दी रखने में मदद करता है।इस आसन के लिए वज्रासन की मुद्रा में बैठ जाएंगे आप चाहे तो दाहिने पैर को घुटने से मोड़ते हुए बाएं पैर के कुल्हें के नीचे रख सकते हैं और बाएं बाएं पैर को दोनों हाथों से उठाकर के घुटने से मोड़ते हुए दाहिने पैर के ठीक घुटने के ऊपर रखेंगे। इसके बाद बाएं हाथ को ऊपर से लेकर पीठ की ओर ले जाएंगे। वहीं दूसरा हाथ नीचे से होते हुए पीठ के पास जाएगा। इसके बाद दोनों हाथों की अंगुलियों एक दूसरे से पकड़ लेंगे। इस आसन को 5 मिनट तक किया जा सकता है। डायबिटीज और उसके कारण होने वाली अन्य बीमारी जैसे आंखों की रोशनी कम होना, किडनी संबंधी समस्या, कमजोरी आदि के लिए फायदेमंद।इस आसन को करने से गैस, कब्ज की समस्या से निजात मिलता है। इसके साथ की कमर, पेट सुडौल होता है। पेट की चर्बी कम कर करें।इस आसन को दो तरह से किया जाता है। इस आसन के लिए योग मैट में आराम से पेट के बल ले जाएं। इसके बाद दोनों हाथों को अपने मुंह के सामने लाकर एक दूसरे के पास रखकर पान का आकार दें। इसके बाद लंबी-लंबी सांस लेते हुए कमर के ऊपरी हिस्से को धीमे-धीमे उठाएं और फिर मुंह से अपने हथेलियों को छुए और फिर ऊपर जाएं। इस प्रक्रिया को 50 से 100 बार करना चाहिए। इस आसन को करने से लंबाई बढ़ती है। इसके साथ ही शरीर की थकावट कम होती है। पेट की चर्बा से भी दिलाएं निजात।पवनमुक्तासन पेट औरकमर की मांसपेशियों के खिंचाव को करने में मदद करता है। इससे पाचन तंत्र सही होता है। इसके साथ ही डायबिटीज के मरीजों को लाभ मिलेगा। इस आसन को करने से जांघो, पेट, कूल्हें को वसा मुक्त करें। इसके साथ ही ब्लड सर्कुलेशन ठीक करें। रीढ़ की हड्डी को मजबूत करें। कब्ज और गैस की समस्या से दिलाएं निजात।​यह आसन बिल्कुल शलभासन के तरह होता है। बस इसमें पेट के बेल नहीं बल्कि पीठ के बल लेटसकर किया जाता है। इस आसन को करने से छाती और मांसपेशियों में खिंचाव, पीठ के दर्द से निजात के साथ ही रीढ़ की हड्डी से सबंधी हर समस्या से निजात मिलता है। इस आसन को करने से डायबिटीज के साथ-साथ कब्ज की समस्या से निजात मिलेगा। इसके साथ ही पैंक्रियाज सही रहेगा। जिससे इंसुलिन बनेगा।इस आसन के लिए सबसे पहले दंडासन की मुद्रा में बैठ जाए। अब सांस लेते हुए रीढ़ की हड्डी को सीधा करें। इसके बाद बाएं पैर को मोड़ें और दाएं घुटने के ऊपर से लाकर बाएं पैर को जमीन पर रखें। इसके बाद दाहिने पैर को मोड़ें और पैर को बाएं कूल्हें के पास रखें। इसके बाद बाएं पैर के ऊपर से दाहिने हाथ को लाएं और बाएं पैर के अंगूठे को पकड़ें। लंबी सांस छोड़ते हुए गर्दन को मोड़े और बाएं कंधे पर आपना ध्यान लगाएं। इसके बाद को जितना संभव हो उतना मोड़ें और गर्दन को मोड़ें जिससे कि बाएं कंधे पर दृष्टि केंद्रित कर सकें। बाएं हाथ को जमीन में रखकर आराम से नॉर्मल सांस लें कुछ देर इसी अवस्था में रहने के बाद दूसरी तरह से इस अवस्था को दोहराएं। इस आसन को बड़े लोगों के साथ-साथ बच्चे भी आसानी से कर सकते हैं। इस आसन को करने से आपका मोटापा कम होगा। इसके अलावा हाई बीपी और कमजोरी को कम करने में मदद करता है।मोदी2001केभूकंपमेंमारेगएस्कूलीबच्चोंऔरशिक्षकोंकेस्मारककाउद्घाटनकरेंगेKarwa Chauth 2020: इन खास संदेशों और तस्वीरों के जरिए दें करवा चौथ की शुभकामनाएं******कार्तिक मास की कृष्ण पक्ष की चतुर्थी तिथि को करवा चौथ का त्योहार मनाया जाता है। का त्योहार हर सुहागन महिला के लिए बहुत ही खास होता है। इस दिन महिलाएं पति की लंबी आयु और अच्छे स्वास्थ्य के लिए निर्जला व्रत रखती हैं। जिसके साथ ही शाम को मां पार्वती और गणेश जी की पूजा के साथ चंद्र देवता को अर्ध्य देकर अपने पति के हाथों से पानी पीने के साथ कुछ खाकर अपना व्रत खोलती हैं। इस बार ये त्योहार 4 नवंबर को मनाया जा रहा है। इस खास मौके पर आप अपने दोस्तों, करीबियों और रिश्तेदारों को इन तस्वीरों और संदेशों के माध्यम से शुभकामनाएं दे।चांद में दिखती हैमुझे मेरे पिया की सूरतचांद संग चांदनी सी हैमुझे भी उनकी जरूरत।करवाचौथ की हार्दिक शुभकामनाएंअपने हाथों में चूड़ियां सजाए,माथे पर अपने सिंदूर लगाए,निकली हर सुहागन चांद के इंतज़ार में,रब्ब उनकी हर मनोकामना पूरी करे।हैप्पी करवा चौथइस व्रत की हर रसम निभाऊंगी,एक सच्ची पत्नी बन कर दिखाऊंगी।दुनिया की हर खुशी मेरे पति की होगी,जब बादलों को चीर कर चांद की एक किरण दिखेगी।करवा चौथ की शुभकामनाएंचांद की रोशनी ये पैगाम है लाईआपके लिए मन में खुशियां है छाईसबसे पहले आपको हमारे तरफ सेकरवा चौथ की हमारी तरफ से ढ़ेर सारी बधाईचांद की पूजा से करती हूंतेरी सलामती की दुआतुझे लग जाए मेरी भी उमरगम रहे हर पल जुदा।करवा चौथ की हार्दिक बधाई...

नवीनतम उत्तर (2)
2022-10-04 23:15
उद्धरण 1 इमारत
Congress Slams On BJP: ‘‘भाजपा का एजेंडा केवल धार्मिक उन्माद फैलाकर राजनीतिक रोटियां सेंकना है’’, गजेंद्र सिंह के बयान पर कांग्रेस नेता का पलटवार******Highlightsराजस्थान के कानून व्यवस्था को लेकर केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह पर पलटवार करते हुए राजस्थान कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा ने यह आरोप लगाया है कि ‘‘भाजपा का एजेंडा केवल धार्मिक उन्माद फैलाकर राजनीतिक रोटियां सेंकना है।’’ उन्होंने यह भी कहा कि गजेंद्र सिंह केंद्रीय जल संसाधन मंत्री हैं लेकिन आज भी राजस्थान के 13 जिलों में पानी के लिए बनाई गई पूर्वी राजस्थान नहर परियोजना (ERCP) को राष्ट्रीय दर्जा नहीं दिला पाएं। महंगाई बढ़ने का मुद्दा, बेरोजगारी का मुद्दा छोड़कर भाजपा द्वारा धार्मिक उन्माद फैलाकर राजनीतिक रोटियां सेंकने से पूरे देश का माहौल खराब हो गया है। लोकतंत्र के लिए जो खतरा पैदा हुआ है, उन मुद्दों पर जब जवाबदेही का समय आता है तो गजेन्द्र सिंह जैसे लोग आकर बयानबाजी करते हैं।महंगाई और बेरोजगारी के मुद्दे पर एक शब्द नहीं बोल पाएं गजेंद्र सिंह -डोटासराडोटासरा ने बुधवार को संवाददाताओं से बातचीत में कहा कि ‘‘केन्द्रीय मंत्री ने झूठ बोलकर राजस्थान को बहुत खराब राज्‍य बताने की कुचेष्टा की। मैं उनके शब्दों की निंदा करता हूं। उन्होंने जो कुछ भी बोला राजनीति से प्रेरित होकर, झूठ बोला और अपने ही प्रदेश को जिसने मत देकर चुनाव जिताया उसके खिलाफ अर्नगल बयानबाजी की।’’ उन्होंने आरोप लगाया कि भाजपा का स्वभाव हिन्दू-मुस्लिम करके एक दूसरे को लड़ाकर राजनीति करना हैं। हम उम्मीद कर रहे थे वह बेरोजगार को रोजगार देने के मुद्दे पर आज कोई बड़ा ऐलान करेंगे। दो करोड़ युवाओं को एक साल में नौकरी देने का वादा करने वाली भाजपा और केंद्र की सरकार पर वह एक शब्द नहीं बोल पाएं। डोटासरा ने कहा कि ‘‘किसानों की आमदनी दोगुनी करने की बात पर वो एक शब्द नहीं कह पाए और जिस प्रकार से हिटलर शाही, तानाशाही और अराजकता और लोकतंत्र की हत्या करने का षड्यंत्र ये लोग कर रहे हैं, उसपर भी वह कुछ नहीं कह पाएंगे।’’राजस्थान की कांग्रेस सरकार पर गजेंद्र सिंह का हमलागौरतलब है कि केंद्रीय मंत्री गजेन्द्र सिंह शेखावत ने बुधवार को दिल्ली में राजस्थान की कांग्रेस सरकार पर हमला करते हुए कहा कि पिछले तीन साल में भीड़ हिंसा, महिलाओं के खिलाफ दुराचार, नाबालिग बच्चियों के साथ दुर्व्यवहार या अतिचार, बच्चों की तस्करी, दलितों के खिलाफ अत्याचार, एक मजहब विशेष लोगो के खिलाफ बर्बरता जैसे घृणित अपराधों के मामले में राजस्थान नित नए र‍िकॉर्ड बना रहा है। डोटासरा ने कहा कि भाजपा नेताओं को आसमान छूती महंगाई जिसने आम आदमी की कमर तोड़ दी है, और किसानों की आय दोगुनी करने पर बात करनी चाहिए। उन्होंने दावा किया कि राज्य सरकार अत्याचारों की घटाओं पर त्वरित कार्रवाई करेगी और अपराधियों को रिकार्ड समय में दंडित करेगी।
2022-10-04 22:46
उद्धरण 2 इमारत
IND vs PAK: महामुकाबले में टीम इंडिया के लिए आई खुशखबरी, मैदान पर हेड कोच राहुल द्रविड़ को देख खुश हुए फैंस******Highlightsभारत और पाकिस्तान के बीच एशिया कप 2022 का हाईवोल्टेज मुकाबला शुरू हो चुका है। भारतीय कप्तान रोहित शर्मा ने टॉस भी जीत लिया है। इसी के साथ भारतीय फैंस के लिए दोहरी खुशखबरी तब आई जब मैदान पर टीम के हेड कोच राहुल द्रविड़ कप्तान रोहित शर्मा के साथ नजर आए। गौरतलब है कि हाल ही में द्रविड़ कोरोना संक्रमित हो गए थे। लेकिन इस हाईवोल्टेज मैच के दिन वह दुबई में टीम के साथ जुड़े और भारतीय फैंस यह जानकर खासा गदगद भी हुए।आपको बता दें कि भारतीय टीम हेड कोच राहुल द्रविड़ के नेतृत्व में यह पहला मल्टी नेशन टूर्नामेंट खेल रही है। टूर्नामेंट के शुरू होने से पहले ही द्रविड़ को महामारी के संक्रमित पाया गया था। इसके तुरंत बाद वह आइसोलेट किए गए थे और एनसीए चीफ वीवीएस लक्ष्मण को टीम का अंतरिम कोच नियुक्त किया गया था। लेकिन पाकिस्तान के खिलाफ बड़े मैच से पहले राहुल द्रविड़ फिट हुए और टीम के साथ जुड़ गए।हेड कोच राहुल द्रविड़ ने पिछले साल टी20 वर्ल्ड कप 2021 में भारत की हार के बाद टीम का नेतृत्व संभाला था। उनकी कोचिंग में टीम इंडिया साउथ अफ्रीका दौरे पर टेस्ट व वनडे सीरीज हारी थी। इसके अलाव भारत को एक भी सीरीज में हार नहीं मिली। न्यूजीलैंड, वेस्टइंडीज, श्रीलंका, साउथ अफ्रीका के खिलाफ टी20 सीरीज, फिर इंग्लैंड में जाकर इंग्लैंड के खिलाफ सीरीज भी भारत ने अपने नाम की थी। उनके नेतृत्व की शुरुआत नवंबर में न्यूजीलैंड के खिलाफ होम सीरीज से हुई थी। जिसमें भारत ने क्लीन स्वीप किया था।भारतीय टीम एशिया कप 2022 में पाकिस्तान के खिलाफ महामुकाबले से अपने अभियान की शुरुआत कर रही है। भारतीय टीम पाकिस्तान और हॉन्ग कॉन्ग के साथ ग्रुप ए में मौजूद है। भारत ने इससे पहले 14 में से 7 बार एशिया कप का खिताब जीता है। मौजूदा समय में भी भारतीय टीम डिफेंडिंग चैंपियन है। एशिया कप का यह 15वां संस्करण खेला जा रहा है। टीम इंडिया की निगाहें निश्चित ही इस बार 8वें खिताब पर होंगी।
2022-10-04 21:22
उद्धरण 3 इमारत
रिलायंस जियो ने एयरेटल पर लगाया बड़ा आरोप, हर रोज नहीं लग पा रही है लंबी दूरी की 2.6 करोड़ कॉल****** दूरसंचार कंपनी रिलायंस जियो ने आज दावा किया कि एयरटेल द्वारा उसे नेटवर्क से उसकी काल जोड़ने की पर्याप्त सुविधा (प्वाइंट ऑफ इंटरकनेक्ट की सुविधा) नहीं उपलब्ध कराया है। इसके कारण उसके उपयोक्ताओं द्वारा की वाली देश के अंदर लंबी दूरी की दैनिक 2.6 करोड़ (53.4 प्रतिशत) फोन कॉल विफल हो रही हैं। कंपनी का कहना है कि ट्राई के नियमों के अनुसार यह कॉल ड्रॉप दर 0.5 प्रतिशत से अधिक नहीं होनी चाहिए।मुकेश अंबानी की अगुवाई वाली रिलांयस जियो ने इसके साथ ही प्वाइंट आफ कनेक्शन पीओआई के बारे में एयरटेल के दावे भ्रमित करने वाला बताया है। कंपनी ने कहा है कि वह मुद्दों से ध्यान भटकाने की कोशिश कर रही है। उल्लेखनीय है कि कॉल कनेक्टिविटी को लेकर रिलायंस जियो व एयरटेल में विवाद चल रहा है।जियो के प्रवक्ता ने पीओआई के बारे में एयरटेल के बयान का भी खंडन किया है और दावा किया है कि वह अपने प्रतिस्पर्धा विरोधी व उपभोक्ता विरोधी कदमों से ध्यान भटकाने के लिए ऐसे बयान दे रही है।भारती एयरटेल ने एक बयान में कहा, जियो ने जितनी ग्राहक संख्या में वृद्धि का अनुमान दिया है उससे अधिक पीओआई (प्वाइंट ऑफ इंटरकनेक्शन) उपलब्ध कराया गया है।यह क्षमता जियो नेटवर्क पर 19 करोड़ ग्राहकों को सेवा देने के लिए पर्याप्त है और यह जियो के मौजूदा 7.25 करोड़ ग्राहक के दावे से दोगुने से भी ज्यादा है।Jio Welcome 2
वापसी